Five Best Method For Proof Reading 4th is Best

Know Importance of Proofreading || and How To Using It. Proof Reading एक ऐसा प्लेटफार्म है जहां पर आप अपने ब्लॉग को पोस्ट करने से पहले जरूरी है उसे चेक करें, अगर आप अपनी पोस्ट को Proof Reading किए बिना पोस्ट करते हो तो मैं दावे से कह सकता हूं आपकी पोस्ट में सो टका कुछ ना कुछ गलतिया रही होगी। और यह गलतियां आप के विजिटर आपको कमेंट करके बताएंगे या फिर आपको पता ही नहीं चलेगा। गूगल में रैंक करने के लिए आपकी पोस्ट में गलतियां कम हो वह जरूरी है।

एक सक्सेसफुल ब्लॉगर बनने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी है हाई क्वालिटी कंटेंट “Content Is King” जिसमें कोई भी ग्रामर मिस्टेक ना हो ना ही कोई कमी जिससे आपके ब्लॉग की Reputation कम हो।

अगर आप अपने पोस्ट को ई-मेल के जरिए भेजते हो या फिर फेसबुक पर पोस्ट करते हो उस टाइम भी आपको Proof Reading करना जरूरी रहता है।

Important Factors

what is Proof Reading?

Proof Readingहमारे पोस्ट को पढ़ना है, जब हम हमारी पोस्ट को पूरा लिख लेते हैं तो उसे पब्लिस करने से पहले पूरा रीड करना है। यह चेक करना है कि इसमें कुछ रह तो नहीं गया है ना ही कुछ ग्रामर मिस्टेक तो है पूरी पोस्ट को अच्छी तरह से पढ़ना और confirm करना है Proofreading.

Proof Reading करने से हमें जो भी गलत या लगती है वह हम अच्छी तरह से ठीक कर सकते हैं।

हम सबको पता है कि जब हम लिखते हैं तो हमारी तरफ से कुछ ना कुछ गलतियां रह ही जाती है जो हमें Proof Reading करने के वक्त पता चलती है और इसे अच्छी तरह से ठीक कर सकते है

How to Use

Proofreading करना कोई बड़ी बात नहीं है, फिर भी आपको इसे सही तरह से करनी है और कुछ प्रोसेस को Follow करना है।

इसके लिए सबसे बढ़िया है आप अपने Google Chrome में Grammerly एक्सटेंशन को इंस्टॉल करें। क्योंकि यह एक्सटेंशन आपकी पोस्ट में जो भी ग्रामर या गलत शब्द होगा वह आपको अच्छी तरह से रेड लाइन करके दिखाएगा जिसे आप क्लिक करके ठीक कर पा सकोगे।

जैसे की अपने खुद से पोस्ट लिखता है तो पोस्ट लिखने के बाद उसको ड्राफ्ट में सेव कर लेना है, ड्राफ्ट में सेव करने के 3 घंटे बाद उस पोस्ट को ओपन करके Proof Reading करना है।

यह इसलिए जरूरी है कि आप अपनी पोस्ट को लिखकर तुरंत ही Proof Reading करेंगे तो वह गलतियां आपके सामने नहीं आएगी। यह पोस्ट लिखने के बाद अपने माइंड को 3 घंटे के बाद ही उस टॉपिक पर ले जाए जिसे आपने लिखा है| लेकिन उस 3 घंटे के दौरान आप दूसरा पोस्ट आसानी से बना सकते हैं।

जब आपको लगे आपका माइंड फ्रेश है तब कोई अच्छी सी जगह ढूंढ कर वहां पर जाकर आप अपने माइंड को फोकस करें और प्रूफ्रेडिंग करें।

इसका बेनिफिट यह रहता है कि आप अपने कीवर्ड पर ध्यान कर सकते हो। और गूगल में की-वर्ड रैंक करवाने के लिए यह जरूरी है कि आपके की-वर्ड की प्लेसमेंट अच्छी तरह हो और यह प्रूफ्र रीडिंग के दौरान आपको देखना है।

जो पोस्ट आपने लिखी है वह प्रूफ्र रीडिंग के दौरान भूल जाओ, और पहले से एक-एक वर्ड को Read करो समझो की पोस्ट में आपको क्या क्या बताया जा रहा है।

ऐसा करने से पोस्ट में रही गई जो भी गलतियां है वह एक-एक करके आपके सामने आ जाएगी और वह आप अच्छी तरह से ठीक कर सकते हैं।

Also Read: What Is Bounce Rate? How To Reduce It?

Some Important Factors

पोस्ट को क्यों पब्लिश करना है उसका Reason सामने आता है?

आप अपनी पोस्ट को पब्लिश करने का जो Reason है वह पोस्ट में पूरी तरह से लिखा हुआ है या नहीं वह चेक करना है।

ग्रामर मिस्टेक चेक करे

पोस्ट में लिखे हुए कोई भी शब्द गलत नहीं है यह चेक करना है और उसे ठीक करना है।

पोस्ट का डिजाइन चेक करे

जो पोस्ट आपने लिखा है वह अच्छी तरह समझ में आ रहा है| उसके पैराग्राफ को पढ़ने में कोई दिक्कत तो नहीं हो रही है, कोई पैराग्राफ लंबा तो नहीं हो रहा है। पोस्ट के अंदर दी गई हेडिंग और सब हेडिंग सब अच्छी तरह है कि नहीं वह देखना है।

कुछ भूल तो नहीं गए

प्रूफ्र रीडिंग के दौरान आपको यह देखना है कि आप कुछ भूल तो नहीं रहे हैं, और आपने गलती से कुछ ज्यादा तो नहीं लिख दिया है| जो बेकार का हो वह अच्छी तरह से देखना और उसको Add या Remove करना है।

Benefits

Proof Reading करने से सबसे ज्यादा फायदा हमारी पोस्ट की रेंकिंग पर होता है जिस पर विजिटर बार-बार आकर उस पोस्ट को पढ़ते हैं फिर भी इसके फायदे हम आपको बताएंगे।

  • ग्रामर मिस्टेक नहीं रहती है
  • फालतू की चीजों को हटा सकते हैं।
  • जो ऐड करने का भूल गए हैं उसे आसानी से ऐड कर सकते हैं।
  • विजिटर को रीड करने में आसानी रहती है।
  • SEO मैं ज्यादा फायदा मिलता है।

Conclusion

दोस्तों आपने देखा कि Proof Reading हमारे लिए कितना मायने रखता है, एक पोस्ट लिख देने से और इसे पब्लिश करने से हम गूगल में अपनी पोस्ट को कभी भी रेंक नहीं कर पाएंगे। इसलिए जरूरी है कि जो भी पोस्ट लिखा जाए वह बढ़िया क्वालिटी का हो और विजिटर को आसानी से पढ़ने में अच्छा रहै। सब कुछ अपने फ्रेश माइंड से करें ताकि कोई भी गलती या ना रहे। अगर आपको भी यह पोस्ट हमारी अच्छी लगी तो कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Leave a Comment